Latest News

नवरात्र में बच्चों से लगवाएं माता को भोग

udaybhoomi 20/9/2017/span> Technology

महाशक्ति मां दुर्गा की आराधना का पर्व है नवरात्र। इन नौ दिनों में मां दुर्गा भक्तों के बीच आकर निवास करती हैं। नवरात्र के पहले तीन दिन मां पार्वती के तीन स्वरूप, अगले तीन दिन मां लक्ष्मी के स्वरूप और आखिरी के तीन दिन मां सरस्वती के स्वरूपों की पूजा की जाती है।
,  
,  - नवरात्र में जितना भी समय मिले, पूजा-पाठ में व्यतीत करें। पूजा के नियम को खंडित न करें। पवित्रता का विशेष ध्यान रखें। ब्रह्मचर्य का पालन करें और जमीन पर सोएं। घर को पवित्र रखें। जो भी भोजन बनाएं सबसे पहले देवी मां को भोग लगाएं।
,  
,  - घर के बच्चों से मां दुर्गा को भोग लगवाएं। इनमें से कुछ का दान करें और बाकी को परिजन ग्रहण करें। इससे बच्चों में बुद्धि का विकास होता है।
,  
,  - नवरात्र में हनुमान जी और भैरव जी की पूजा बहुत फलदायी है। हनुमान चालीसा का पाठ करें। नवरात्रि में दिल खोलकर दान करें। अखंड दीप प्रज्ज्वलित करने पर नौ दिनों तक अपना घर खाली नहीं छोड़ें। सुबह और शाम दुर्गा सप्तसती और दुर्गा चालीसा का पाठ करें। घर पर आई कन्या को खाली हाथ विदा न करें।

Related Post