Latest News

भारत के साथ मिल कर काम कर रहे हैं

udaybhoomi 23/9/2017/span> Technology

चीन का कहना है कि अब वो डोका ला प्रकरण को पीछे छोड़कर भारत के साथ संबंधों को आगे बढ़ाने के लिए साथ मिलकर काम करा है। चीन के महावाणिज्य दूत मा झानवु ने कहा कि साथ मिलकर काम करने से सहयोग और आदान-प्रदान को आगे बढ़ाया जा सकता है। झानवु ने चीन गणराज्य की स्थापना की 68वीं वर्षगांठ पर कोलकाता में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा, 'भारत और चीन साथ मिलकर काम कर रहे हैं। इस संबंध को कैसे आगे बढ़ाया जाए इस पर चर्चा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति शी जिनपिंग की पांच सितंबर को बैठक हुई थी।'
,  
,  यह पूछे जाने पर कि क्या दोनों देशों ने डोकलाम प्रकरण को पीछे छोड़ दिया है? झानवु ने कहा, 'हां, हमने पीछे छोड़ दिया है और द्विपक्षीय संबंधों को आगे बढ़ाने के लिए साथ मिलकर काम कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विगत पांच सितंबर को 9वें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन से इतर राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात की थी।' दोनों नेताओं ने सहमति जताई थी कि सीमा पर तैनात सैनिकों के बीच सहयोग को मजबूत बनाने और डोका ला जैसी घटना की पुनरावृत्ति ना हो इस बात को सुनिश्चित करने के लिए और प्रयास करने चाहिए। चीन और भारत के सैनिकों के बीच सिक्किम सेक्टर के डोका ला इलाके में तनातनी चल रही थी, जब भारतीय सैनिकों ने चीनी सेना को उस इलाके में सड़क बनाने से रोक दिया था। 28 अगस्त को भारतीय विदेश मंत्रालय ने घोषणा की कि नई दिल्ली और बीजिंग ने विवादास्पद डोका ला क्षेत्र से अपने-अपने सैनिकों को हटाने का फैसला किया है।

Related Post