Latest News

देवकीनंदन ठाकुर ने मध्यप्रदेश चुनाव की तैयारियां शुरू कीं, भाई और मिशन के सचिव विजय शर्मा को भारत भेजा

udaybhoomi 15/10/2018/span> Technology

जगदीश वर्मा ‘समन्दर’:वृन्दावन : एससी-एसटी एक्ट संशोधन में बिना जाँच गिरफ्तारी का विरोध कर रहे अखण्ड भारत मिशन के अध्यक्ष एवं भागवत वक्ता देवकीनंदन ठाकुर ने मध्यप्रदेश चुनाव के लिये तैयारियाँ शुरू कर दी हैं. वे भले ही अभी भागवत कथा के लिये अमेरिका में हैं लेकिन आगामी रणनीति के लिये उन्होने अपने भाई और अखण्ड भारत मिशन के सचिव विजय शर्मा को प्रतिनिधि के रूप में भारत भेज दिया है. विजय शर्मा 17 अक्टूबर को वृन्दावन पहुँचकर इस अभियान की शुरूआत करेंगे. वहीं देवकीनंदन ठाकुर 28 अक्टूबर को भारत लौटेगें.
,  
,   शांती सेवा धाम पर मिशन के प्रवक्ता गजेन्द्र सिंह ने जानकारी देते हुये बताया कि विजय शर्मा 18 अक्टूबर से मध्यप्रदेश के विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों में दौरा कर राजनैतिक एवं सामाजिक संगठनों के प्रमुखों से मुलाकात करेगें. इस दौरान अखण्ड भारत मिशन के बैनर तले चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों से आगामी रणनीति पर विचार-विमर्श किया जायेगा. उन्होने कहा कि सवर्ण समाज के साथ देवकीनंदन महाराज के बार-बार अनुरोध के बावजूद सरकार किसी की बात सुनने को तैयार नहीं है. यह जानते हुये भी कि मध्य प्रदेश चुनावों की तैयारी के लिये बहुत कम समय है, इसके विरोध में अखण्ड भारत मिशन चुनावों में उतरेगा और लोकतांत्रिक भाषा में जवाब देगा.
,  
,  गौरतलब है कि सवर्ण समाज इस एक्ट संशोधन के विरोध में लगातार आवाज उठा रहा है. देवकीनंदन ठाकुर ने ग्वालियर में सरकार को सुप्रीम कोर्ट के अनुसार विधेयक लागू करने के लिये दो माह का अल्टीमेटम दिया था. यह समय भी अक्टूबर माह के साथ समाप्त होने जा रहा है. पिछले दिनों कनाडा से किये फेसबुक लाइव में पण्डित देवकीनंदन ठाकुर ने सरकार को इस बारे में पुनः सोचने का अनुरोध करते हुये समय याद दिलाया था. माँगें न माने जाने पर उन्होने मध्यप्रदेश चुनावों में उतरने का ऐलान भी कर दिया था लेकिन सरकार की ओर से किसी आश्वासन या कार्यवाही की पहल अभी तक नहीं हुई है.
,  एक्ट संशोधन के विरोध में में कूदे विभिन्न संगठनों द्वारा देवकीनंदन महाराज को भारत लौटने का आग्रह किया जा रहा है.
,   मध्य प्रदेश चुनावों में भी बहुत कम समय बचा है. अभी देवकीनंदन ठाकुर ने किसी पार्टी विशेष का नाम भी उजागर नहीं किया है जिसके माध्यम से चुनावी सागर को पार किया जायेगा. सपाक्स संगठन सहित कई छोटी पार्टियाँ भी उन्हें अपने साथ जोड़कर चुनाव लड़ने की कोशिश में हैं. राजनैतिक मामलों के जानकार बताते हैं कि केन्द्र सरकार एससी-एसटी एक्ट संशोधन पर किसी भी सूरत में पलटी नहीं मारेगी. ऐसी स्थिति में अपनी बात में वजन रखने के लिये देवकीनंदन ठाकुर को चुनावी मैदान में ताल ठोकनी ही पड़ेगी. यही कारण है कि अब चुनावी तैयारियों के लिये विजय शर्मा भारत आ रहे हैं.
,  
,  

Related Post