Latest News

विजयादशमी के रंग, परम्परागत मिष्ठान के संग

udaybhoomi 19/10/2018/span> Technology

बबिता बसाक : लखनऊ : उत्सव कोई भी हो, बिना मिष्ठान के उसका आनंद कुछ अधूरा सा प्रतीत होता है। आज की भाग दौड़ भरी जिन्दगी में परम्परागत घर की बनी स्वादिष्ट मिठाईयों का स्वाद यदि मिल जायें, तो उत्सव का मजा दोगुना हो जाता है।
,  दुर्गा पूजा जैसे आनंदोत्सव के बाद विजयदशमी पर्व पर आज भी बंग समुदाय द्वारा घर-घर परम्परागत मिठाईयां बनाने का रिवाज़ है। ऐसी ही कुछ परम्परागत मिष्ठान रेसिपी हम आपके लिए लेकर आये हैं:-
,  
,  1. रोस माधुरी:-
,  सामग्री : चीनी 500 ग्राम, दूध 1 किलो, कच्चा नारियल 1, मिल्क मेड या मलाई 2 बड़े चम्मच, बादाम, काजू 50-50 ग्राम, छोटी इलाइची पाउडर 2 चम्मच, मैदा आवश्यकतानुसार, घी या रिफाईन आॅयल 500 ग्राम।
,  विधि : चीनी से एक तार वाली चाशनी तैयार कर उसमें इलाइची पाउडर मिक्स कर अलग रखें। नारियल को कद्दूकस करें और बादाम व काजू को महीन कर अलग-अलग बाॅउल में रखें। दूध को धीमी आंच में पकने दें जब तक वो आधा न हों जाये उसके बाद मिल्क मेड या मलाई मिलाकर गाढ़ा करें। गैस बंद कर थोड़ी देर ठंडा होने के लिए छोड़ दें। काजू व बादाम मिलाकर हल्का सा मैदा मिलायें और टाइट पूड़ी के आटे की तरह तैयार करें। छोटी-छोटी लोई बनाकर गोल करके हाथ से चपटा करके घी गर्म होने पर एक एक करके उन्हें ब्राउन या पिेंक कलर का तलें। ठंडा होने पर चाशनी में डूबोयें और स्वादिष्ट रोस माधुरी का आनंद उठायें।
,  2. चौन्द्रकला :
,  सामग्री : खोया 250 गा्रम, दूध 500 ग्राम, नारियल बुरादा या लच्छा 50 ग्राम, छोटी इलाइची पाउडर 1 चम्मच, चीनी 300 ग्राम, पेस्ता या बादाम डेकोरेशन हेतु।
,  विधि : दूध को धीमी आंच में आधा होने तक पकने दें। खोया व चीनी मिक्स कर दूध को बराबर चलाते रहें। नारियल बुरादा व इलाइची पाउडर मिक्स कर गाढ़ा होने पर गैस बंद कर दें। चैड़े थाल में तैयार सामग्री को हाथ से अच्छे से मैश कर प्लेन कर लें, अर्द्ध चन्द्रमा शेप सांचे से एक-एक कर चैन्द्रकला को तैयार कर लें। प्लेट में रखकर ऊपर से बादाम या पेस्ता कतरन बुरक कर उसे डेकोरेट करें।
,  3. दौरबेश :
,  सामग्री : बेसन 1 किलो, खोआ 500 ग्राम, घी 1 किलो 500 ग्राम, इलाइची छोटी पाउडर 2 चम्मच, काजू व किशमिश 50 ग्राम, खाने वाला लाल, पीला व नारंगी रंग चुटकी भर, चीनी 1 किलो।
,  विधि : सबसे पहले चीनी से चाशनी तैयार कर लें, बेसन में अलग-अलग रंग मिलाकर पानी से बूंदी हेतु घोल तैयार कर 15 मिनट के लिए छोड़ दें। कढ़ाई में घी गर्म होने पर मोटे छेददार चम्मच से अलग-अलग रंगों की बूंदी तैयार कर उसे अलग-अलग ही रखें। कढ़ाई को साफकर चाशनी में तैयार बूंदी, खोया मिक्स कर धीमी आंच में पकायें, किशमिश, काजू, इलाइची पाउडर मिक्स कर परात में फैला दें और मध्यम आकार के लड्डू बना लें। लड्डू तैयार होने के बाद प्लेट में सजाकर कच्चे खोये का चूर्ण लड्डओं के ऊपर बुरक कर दोरबेश का लुफ्त उठायें।
,  4. सूजी के लड्डू :
,  सामग्री : रवा 500 ग्राम, किशमिश 25 ग्राम, चिरौंजी 25 ग्राम, छोटी इलाइची पाउडर 2 चम्मच, चीनी 700 ग्राम, देशी घी या रिफाईन आयल 400 ग्राम, पिस्ता कतरन या चांदी वर्क डेकोरेशन हेतु।
,  विधि : कढ़ाई को गर्म कर घी में सूजी को गुलाबी कलर का तैयार कर लें। महीन चीनी मिक्सकर सूजी को बराबर चलाते रहें, चीनी और सूजी मिक्स और सामग्री के भूरभूरा होने पर किशमिश, चिरौंजी, व इलाइची पाउडर मिलाकर थाल में फैला दें। हाथ में हल्का सा तेल या घी लगाकर लड्डू का शेप दें। तैयार लड्डूयों को प्लेट में रखकर डेकोरेशन हेतु पिस्ता कतरन या चांदी वर्क का प्रयोग कर सकते हैं।
,  5. लौबोंग लोतिका :
,  सामग्री : मैदा 500 ग्राम, खोया 250 ग्राम, चिरौंजी, किशमिश, नारियल लच्छा 3-4 चम्मच, छोटी इलाइची पाउडर 2 चम्मच, चीनी 750 ग्राम, घी या रिफाईन आॅयल 1 किलो, लौंग 50 ग्राम।
,  विधि : चीनी से एक तार वाली चाशनी तैयार कर लें। मैदे में 3-4 बड़े चम्मच मोईन मिलाकर आटा तैयार कर साफ हल्के गीले सूती कपड़े से लगभग 30 मिनट तक ढक कर रखें। कढ़ाई गर्म होने पर खोया व चीनी को धीमी आंच में पकायें, किशमिश, नारियल लच्छा व इलाइची पाउडर मिलाकर प्लेट में फैला दें। तैयार मैदे से छोटी-छोटी लोई बनाकर पूड़ी की तरह बेल लें। बीच में 1 चम्मच तैयार सामग्री रखकर चारों ओर चैकोर शेप में लपेटकर बीचोबीच बंद करें और उस जगह 1 लौंग कली लगा दें। एक-एक कर लतिकाओं को घी या रिफाईन आॅयल में हल्का गुलाबी या हल्का ब्राउन कलर फ्राई करें। कढ़ाई से निकालकर कुछ देर बाद उन्हें चाशनी में डूबो दें। टेस्टी लौबोंग लोतिका तैयार।
,  
,  
,  

Related Post